Category: Osho Hindi

कामवासना अंश है प्रेम का- ओशो

कामवासना अंश है प्रेम का, अधिक बड़ी संपूर्णता का। प्रेम उसे सौंदर्य देता है। अन्‍यथा तो यह सबसे अधिक असुंदर क्रियाओं में से एक है। इसलिए लोग अंधकार
Read More

क्या आप जानते ! भारत के सभी भगवान राजाओ के घर ही क्यों पैदा हुए ?

मनुष्य ने जितनी सभ्यता विकसित की है वह श्रम से मुक्त हो जाने के लिए की है। जब भी कुछ लोग श्रम से मुक्त हो गये तो उन्होंने
Read More

क्या आप जानते है ? हमारे तीन मस्तिष्क होते है

मस्तिष्क के तीन हिस्से और सक्रिय ध्यान – एक वैज्ञानिक शोध- हमारे तीन मस्तिष्क होते है – पहले को रेप्टाइल ब्रेन कहते है ,यह सबसे आदम मस्तिष्क है
Read More

विज्ञान भैरव तंत्र का रहस्य

तंत्र विज्ञान है, और वह परमाणु—विज्ञान से भी ज्‍यादा गहन विज्ञान है। परमाणु विज्ञान पदार्थ से संबंधित है; तंत्र तुमसे संबंधित है। और तुम सदा ही किसी भी
Read More

भीतर तो देखो -ओशो

भीतर तो देखो भगवान कैसे मिलेगा ? आदमी से मिलना नहीं हो पा रहा है , बस इतनी सी बात है इसलिए तो बुध्द ने ईश्वर को हटा
Read More
error: Content is protected !!