Do you Know?? Nunavut People— History and Culture

नुनावट कल्चर  – Nunavut — History and Culture-

प्रस्तावना –  नुनावट ( Nunavut )  उतरी कनाडा के सबसे बड़े आबादी वाला क्षेत्र जाना जाता है , आपको जानकार हेरानी होगी  की नुनावट में सबसे ज्यादा युवा लोग ही निवास करते है . नुनावट केनेडियन आर्कटिक द्वीप समुह का अधिकांश भाग है . इसके आस पास जंगली पहाड़ और दूरदराज गाँव बने हुए है , और एक खास बात यह है की इस जगह पर जाने के लिए विमान और नाव का इस्तेमाल किया जाता है . नुनावट लोगो की अपनी एक प्राचीन युवा संस्कृति और विरासत  है जिसको वे सदियों से जारी रखते आए है .

आबादी –  नुनावट की कुल जनसंख्या २०११ के आधार पर 33,330 लोगो की अनुमानित जनसंख्या है , जिनमे से अधिकांश संख्या इनुइट की है नुनावट में करीब 28000 इनुइट के लोग रहते है . यहाँ की एक विशेष बात यह है की 40 वर्ष के कम उम्र के लोग ही अधिकतर निवास करते है |

भाषा –  नुनावट की भाषा इनूकीटूत् (Inuktitut )है , जो व्यापक रूप से बोली जाती है , इसके अलावा इस क्षेत्र में अंग्रेजी और फ्रेंच भाषा भी बोली जाती है .

राजधानी –  नुनावट की राजधानी इक्लुआट ( Iqaluit ) , जो की दक्षिण बाफिन द्वीप पर फ़्राबिशर खाड़ी पर है 

इतिहास –  नुनावट – आर्कटिक कनाडा के स्वदेशी लोगों का घर है जो इनुइट के नाम से जाना जाता है। नुनावट के रहने वाले लोगो ने ४ हजार वर्षो से निरंतर स्वदेशी आबादी का समर्थन किया है , कुछ पुरातत्ववेत्ताओं ने यह निशिचत किया है आज के इनुइट जो पूर्ववर्ती बियरिंग राज्य के क्षेत्र  में उत्पन्न हुए थे जो एशिया को उतरी अमेरिका से अलग करता है .

पालेओं एस्किमो के नाम से जाने वाला पहला स्वदेशी समूह जो तीन हजार वर्ष  पूर्व आस पास के बेरिंग सागर को पार किया था . जलवायु के बदलाव के कारण २५०० वर्ष पूर्व के आसपास कनाडा के आर्कटिक द्वीप समूह में चले आए थे .

नुनावट के लोगो ने १९५० के दशक तक अपनी परंपरागत जीवन शैली को बरकरार रखा , नुनावट में भूमि दावे समझोता अधिनियम १९९३ में आधिकारिक तौर पर कानून बनाया गया था .सन १९९९ में नुनावट को कनाडा का सबसे नया क्षेत्र घोषित किया गया .

इनुइट कल्चर –  Nunavut Culture History Hindi- इनुइट का शाब्दिक अर्थ – मनुष्य या लोग होता है , यह नाम नुनावट के स्वदेशी लोगो को संदर्भित करता है , नुनावट के लोगो ने अपनी संस्कृति और विरासत  को सुरक्षित रखने का जबरदस्त काम किया है ,  नुनावट के लोग अपनी आजीविका के लिए  मछली पकड़ना और शिकार को फांसना जैसे ही काम करते थे .  पत्थर की नक्काशी,  प्रिंट और बुनकर कुछ पारम्परिक कला और शिल्प है जो इनुइट लोगो द्वारा प्रचलित है . दूसरा विश्व युद्ध के बाद  कनाडा के कलाकार और लेखक जेम्स आर्चिबाल्ड हयूस्टन ने हडसन की कंपनी की सहयता से पारंपरिक इनुइट कला और शिल्प की बिक्री के लिए जिम्मेदार थे . आधुनिक समय में पारम्परिक  इनुइट की कला और शिल्प का उत्पादन का प्रचार किया गया जिससे नुनावट में रहने वाले लोगो की आय में वृद्धि हो .

उपसंहार –  आज के विषय में हमने आपको नुनावट के बारे में जानकरी दी है जिसमे हमने आपको नुनावट के  लोगो के बारे में ,भाषा ,और इतिहास की कुछ खास झलकिया बताई . नुनावट कल्चर के बारे मे जानकारी दी गई , और नुनावट में रहने वाले लोगो के बारे तथ्यो के बारे में बताया गया . हम आपसे राय चाहते है की यह छोटा सा लेख आपको कैसा लगा ? क्या आप हमारे इस लेख से संतुष्ट हुए या नहीं आप अपनी  राय कमेंट में लिख सकते है .

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *