दोस्तों…. यदि चेहरा, फिगर, कपड़े डिज़ाइनर हो सकते हैं तो ज़िन्दगी क्यों नहीं ? सुनने में अटपटा जरूर लग रहा होगा , लेकिन आजमाकर देखेंगे तो पाएंगे की