दुनियां के बीच खुद की एक अलग पहचान बनाने का सपना लिए सांची अपने परिवार के खिलाफ जाकर बाहर दुनियां में कदम रखती है तो उसका कोई सहारा