जानिए ! आपको सफलता के लिए क्या करना चाहिए

सफलता के सूत्र- Safalta Ke Sutra in Hindi

‘ मन के हारे हार ,मन के जीते जीत ‘ – इस सरल सी उक्ति का अर्थ जानते हुए भी , हम उससे कोई लाभ नहीं उठा पाते | क्यों ? इसके एक नहीं अनेक कारण है | लेकिन उन कारणों में रक महान अह्म है , और वह है की हम अपने आप को ,अपनी क्षमताओं को हमेशा कम आंकते है | हर व्यक्ति अपने आप में अभूतपूर्व संभावनाएं , क्षमताएं समेटे रखता है लेकिन उसकी हालत कस्तुरी मृग की भांति होती है ,जो यह न जानकर की कस्तुरी स्वयं उसके भीतर है ,उसकी सुवास ( सुगंध ) की खोज में यहाँ –वहाँ भटकता रहता है |

यह एक वैज्ञानिक तथ्य है की जो को सौ डिग्री तक गर्म करने पर ही उससे भाप बनती है | यदि जल ९९ डिग्री तक ही गर्म होगा तो उससे भाप नहीं बनेगी , इंजीन गाड़ी नहीं खींच पाएगा | वह अपनी जगह से हिल भी नही सकेगा |

कई लोग अपने जीवन की गाड़ी को कम गर्म जल से चलाने का यत्न करते है और असफल रहते है
यह गर्म जल क्या है ? यह है – उत्साह , आपके मन में छिपा उत्साह मंद है .अपूर्ण है ओज से ,ऊर्जा से हीन है तो आप हर काम आधे –अधूरे मन से करते है | आधे –अधूरे मन से किया गया कोई भी काम कभी पूरा नहीं होता है , न कोई लाभ प्रदान करता है |

उत्साह के जल को कैसे गर्म किया जाए ?

जो मनुष्य अपना उद्देश्य निशिचत कर लेता है तथा उसके लिए स्वयं में पूर्ण उत्साह पैदा करता है तो वह रचनात्मक क्रियान्मक शक्ति बन जाता है | ऐसा उत्साह कर्म की प्रेरणा देता है | व्यक्ति कर्मठ बन जाता है और साथ ही सृष्टा भी | अत: जीवन में किसी भी लक्ष्य का होना बहुत ही जरुरी है | सुखी सकारात्मक जीवन जीने के लिए जरुरी है की हम अपने जीवन में लक्ष्य तय करे |बिना लक्ष्य निशिचत किए कोई व्यक्ति न तो जीवन में सार्थक रूप से आगे बढ़ सकता है और न कुछ हासिल कर सकता है | पर कैसे लक्ष्य ?

यह व्यक्ति की अवस्था ,समय ,परिवेश ,संस्कार आदि पर निर्भर कर है | मात्र इच्छा करना , उस जल की तरह है , जो पूरी तौर पर गर्म नहीं है | इच्छा एक उष्ण जल है ,उसे खोलना चाहिए ताकि वह कर्म करने की ओर प्रवृत कर सके | अत: जरुरी है की हम इच्छा को संकल्प में बदले | संकल्प जो अटूट हो |

अटूट संकल्प में जबरदस्त ताकत होती है | अटूट संकल्प से प्रेरित व्यक्ति लग  न के साथ दृढ़ता के साथ आगे बढ़ता है | दृढ़ संकल्प दो कार्य करता है | एक तो वह कभी पीछे नहीं लौटने देता और दुसरे वह रास्ते की सारी बाधाओ को हटा देता है | दृढ़ संकल्प ही व्यक्ति को उसके अपने लक्ष्य तक ले जाता है

Sharing is caring!

Loading...

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!