एंड्राइड क्या हे और केसे काम करता हे ?

एंड्राइड गूगल द्वारा विकसित किया गया एक मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम हे  , जो  की सन  23 September 2008 में इनिशियलाइज़ हुआ | एंड्राइड सामान्य रूप से टच स्क्रीन मोबाइल और टेबलेट्स के लिए design किया गया था |

Android is open source project  –

सामान्य रूप गूगल मोबाइल यूजर और मोबाइल बनाने वाली कंपनियों लो फ्री में provide करवाती हे ,  गूगल ने लगभग सभी मोबाइल डिवाइस में play store नामक सर्विसेज दे रखी हे जिसके माध्यम से हम कोई भी  एंड्राइड Application डाउनलोड  को कर सकते हे तथा उसकी servces को  फ्री में use कर सकते हे

Android Services provider –

एंड्राइड  बहुत लोकप्रिय रहा है, लेकिन जब इसे पहली बार पेश किया गया था, तो यह एटी एंड टी के लिए विशिष्ट था। Android  एक open source   platfrom  है। कई users  संभावित रूप से एंड्रॉइड संचालित फोन की पेशकश कर सकते हैं, हालांकि डिवाइस निर्माताओं के पास वाहक के साथ एक विशेष समझौता हो सकता है। इस लचीलेपन ने एंड्रॉइड को एक मंच के रूप में अविश्वसनीय रूप से तेजी से बढ़ने की अनुमति दी।

Google services for android-

चूंकि Google ने एंड्रॉइड विकसित किया है, इसलिए यह बॉक्स के ठीक बाहर स्थापित कई Google ऐप सेवाओं के साथ आता है। जीमेल, गूगल कैलेंडर, गूगल मैप्स, और Google नाओ सभी एंड्रॉइड फोन पर पहले से इंस्टॉल हैं। हालांकि, क्योंकि एंड्रॉइड को अपडेट  किया जा सकता है, इस कारण उसके application को भी update करना हो ता हे । उदाहरण के लिए, Verizon Wireless ने कुछ एंड्रॉइड फोन को डिफॉल्ट सर्च इंजन के रूप में बिंग का उपयोग करने के लिए संशोधित किया है। आप अपने आप जीमेल अकाउंट को भी हटा सकते हैं

Touch screen:

Android एक Touch screen  स्क्रीन का Allow  करता है  जिसके कारण उसको use करना बहुत आसन हे । हम  कुछ नेविगेशन के लिए एक ट्रैकबॉल का उपयोग कर सकते हैं, जिसके सारे काम टच  के माध्यम से किया जाते  है। Android  एक Flexible operating System जो की विभिन input units जैसे tv remote , joysticks , तथा physical keyboard सपोर्ट कर सकता हे |

Version of android

1. Cupcake

2. Donut

3. Eclair

4. Froyo

5. Gingerbread

6. Honeycomb

7. Ice Cream Sandwich

8. Jelly Bean

9. KitKat

10. Lollipop

11. Marshmallow

12 . Nougat

13. Oreo

14. Android P

Sharing is caring!

Loading...

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!